डोमेन या डोमेन नाम क्या हैं | What Is Domain or What is Domain Name in Hindi

Domain Name क्या है और यह कैसे काम करता है | Domain Name कितने प्रकार का होता है

एक वेबसाइट या ब्लॉग के लिए Custom Domain Name का होना उतना ही जरुरी है जितना की आपकी पहचान के लिए आपके नाम का होना जरुरी है। जब हम कोई ब्लॉग या वेबसाइट बनाते हैं तो हमे एक Custom Domain naam की जरूर पड़ती है ताकि लोग हमारी वेबसाइट या ब्लॉग को उस नाम से जान सकें। लेकिन ये Domain Name क्या है और यह कैसे काम करता है | Domain Name कितने प्रकार का होता है | Domain Name के फायदे in Hindi क्या हैं यह सब जानना भी तो जरुरी है।

तो चलिए आज जानते हैं की Domain Name क्या है (What is Domain Name in Hindi) और साथ ही इसके प्रकार और फायदों को भी जानेंगे, इसलिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें ताकि आप Domain Name के बारे में सबकुछ जान सकें। 

जब भी हम Internet पर कुछ Search करते हैं तो हमारे सामने कुछ Web Pages आते है। जब हम इन Web Pages के किसी भी Result पर क्लिक करते है, तो एक वेबसाइट Open होती है। उस वेबसाइट के नाम को की Domain Name कहते हैं। अब आपके मन में ये बात जरुर आ रही होगी की आखिर एक website और Domain Name का क्या रिश्ता है।

तो मैं आपको बात दूँ की Domain Name की मदद से हम Internet में websites को ढूंढ सकते हैं। Domain Name को हम एक Friendly naming system (what is domain name system in hindi) कह सकते हैं जिससे हम किसी Web Pages और Web Servers का पता लगा पाते हैं। 

 

Domain Name क्या है और यह कैसे काम करता है | Domain Name कितने प्रकार का होता है | Domain Name के फायदे in Hindi

Table of Contents

डोमेन या डोमेन नाम क्या हैं | What Is Domain or What is Domain Name in Hindi

Domain Name या DNS (Domain Naming System) किसी Website का का वह पता होता है, जिसकी सहायता से एक User आपकी वेबसाइट या ब्लॉग तक पहुँचता है। Domain naam की मदद से हम किसी website को Internet पर ढूंढ (identify) सकते हैं।

जब आप Internet पर कुछ Search करते हैं तो आपके सामने बहुत सारे Web Result आते है। हम मान के चलते हैं की हमने उसमे से किसी एक Web Result को Open किया और उसमे दी हुई जानकारी पढ़ी। अब अगर हम फिर से सीधे उसी वेबसाइट पर आना चाहते है तो ऐसे में इंटरनेट पर उस वेबसाइट का Domain Name डाल कर उस वेबसाइट को ढूंढ सकते हैं। इससे वो वेबसाइट सीधे आपके सामने खुल जागेगी। 

हर डोमेन का एक अपना एक IP Address (Internet Protocol Address) होता है, जिसकी मदद से कंप्यूटर आपके डोमेन को पहचान लेता है। IP Address एक numerical address होता है जो Browser को बताता है की Internet में कोई website कहाँ मौजूद है। 

एक ही नाम के दो डोमेन भी हो सकते है, लेकिन इनके एक्सटेंशन नाम अलग अलग होते है। जैसे अगर मेरी वेबसाइट का नाम www.youthinfohindi.com है तो इसका दूसरा नाम www.youthinfohindi.in या www.youthinfohindi.net इत्यादि भी हो सकता है। कहने का मतलब यह हुआ की डोमेन के अक्षर एक जैसे हो सकते हैं पर डोमेन की Extension बदल सकती है।

IP Address numeric होते हैं जिसे याद रखना थोड़ा मुश्किल होता है लेकिन Domain Name को आसानी से कोई भी याद रख सकता है। Domain Name वह आसान नाम है जिसे हम IP Address के मुकाबले आसानी से याद रख सकते हैं।

Domain Name IP Address का एक human readable version है। Domain Name का उपयोग URLs में किसी particular webpage को ढूंढने में भी होता है। उदहारण के लिए मेरी वेबसाइट के URL https://youthinfohindi.com/ में youthinfohindi.com मेरा Domain Name है।

 

डोमेन नाम कैसे काम करता है How Does a Domain Name Works

सभी website एक server में host या store किये जाते हैं। जब कोई डोमेन किसी वेबसाइट के साथ Connect होता है, उसका सारा Data एक Server में Store या Host होता है। Domain उस Server के IP के साथ जुड़ा हुआ होता है।

जब भी हम किसी Domain को URL Bar में टाइप करते है, तो Domain Name की मदद से Server का IP, किसी website के Data को Point करता है, जिसकी वजह से हमारे सामने डोमेन नाम टाइप करने पर वह वेबसाइट Browser में दिख जाती है।

 

डोमेन नाम की जरुरत क्यों पड़ती है | Why Do We Need a Domain Name

जैसे आम ज़िन्दगी में किसी इंसान की पहचान के लिए उसके नाम की जरुरत होती है ठीक वैसे ही इंटरनेट की दुनिया में किसी भी Business, Organization, Website या किसी व्यक्ति विशेष की एक पहचान के लिए हमें Domain Name की जरुरत पड़ती है। अगर आप कोई व्यवसाय चला रहे हैं या फिर आप एक बड़े Celebrity हैं तो आपके एक Domain Name जरूर खरीदना चाहिए।

Domain Name खरीदने के बाद आप अपने Brand को Trademark बना सकते है, इसके अलावा Copyright Claim भी कर सकते है। इससे लोग आपके ब्रांड को अच्छे से पहचानने लगते हैं और आपका ब्रांड भी सुरक्षित रहता है तथा सर्च इंजन में आपकी ब्रांडिग बढ़ती है।

 

यह भी पढ़ें : Blog और Blogging क्या है | Blogging कैसे करते हैं | What is Blogging and how to do Blogging | Professional Blogging Tips in hindi 2022 (All in One)

 

डोमेन नाम के प्रकार | Types of Domain Names in Hindi Domain Name कितने प्रकार के होते हैं 

वैसे तो Domain Name के कई प्रकार के होते है, लेकिन मैं आपको सिर्फ कुछ महत्वपूर्ण Domain Name Categories के बारे में बताऊंगी जिससे की अगर आपको एक ब्लॉग या वेबसाइट बनाना है, तो उसके लिए Domain Name का चुनाव करते समय आसानी हो। एक अच्छा डोमेन नाम (Best Domain Name) आपकी वेबसाइट की ब्रांडिंग और SEO दोनों चीजों में काफी मदद करता है। तो आइये जानते हैं की डोमेन कितने प्रकार के होते हैं :

1. TLD – Top Level Domains :-

Top Level Domains (TLD) को Internet Domain Extension के नाम से भी जाना जाता है। यह डोमेन का वह हिस्सा होता है जहाँ Dot ( . ) के बाद डोमेन का नाम ख़त्म होता है। उदाहरण के लिए मेरी वेबसाइट https://youthinfohindi.com/ में “.com” वाला हिस्सा एक Top Level Domain है। इस TLD को सबसे पहले develop किया गया था।

इस TLD की मदद से आप अपनी website को आसानी से Rank कर सकते हैं क्यूंकि ये आसानी से Google Search Engine में रैंक हो जाते है। इस TLD को Google Search Engine सबसे ज्यादा importance देता है क्यूंकि ये बहुत ही ज्यादा SEO friendly है। कुछ Top Level Domain के उदहारण निम्नलिखित हैं –

• .com (Commercial)
• .net (Network)
• .edu (Education)
• .info (Information)
• .org (Organization)
• .gov (Government)
• .biz (Business)
• .name (Name)

2. CcTLD – Country Code Top Level Domains

Country Code Top Level Domains (CcTLD) भी एक प्रकार के Top Level Domains ही होते है, लेकिन इन Domain Name का इस्तेमाल आमतौर पर किसी Particular देश के Users को Target करने के लिए किया जाता है।

उदाहरण के लिए अगर आप अपने किसी बिज़नेस को सिर्फ भारत में ही Grow करना चाहते हैं तो आप इसके लिए .in TDL का उपयोग कर सकते है। अब इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है की यह Globally Rank नहीं करेगा। .in Domain Names भी वैश्विक स्तर पर Rank करते हैं।

Country Code Top Level Domains (CcTLD) पर भी AdSense Approval आसानी से मिल जाता हैं। बस आपको वेबसाइट पर AdSense की Policy को ध्यान में रखकर Content लिखना होता हैं। कुछ Country Code Top Level Domains के उदहारण निम्नलिखित हैं –

Country Code Top Level Domains (CcTLD) List

• .in (India)
• .us (United States)
• .uk (United Kingdom)
• .ch Switzerland
• .sa (Saudi Arabia)
• .sg (Singapore)
• .jp (Japan)
• .au (Australia)
• .nz (New Zealand)
• .cn China
• .ru Russia
• .br (Brazil)

यह भी पढ़ें : Google Ranking Factors 2022 | 7 Latest SEO Trends in Hindi – SEO के लिए 7 जरुरी Tips 

 

Subdomain क्या होता है (What Is Subdomain in Hindi)

Subdomain क्या होता है (What Is Subdomain in Hindi)

Subdomain हमारे Main Domain Name का ही एक हिस्सा होता है। Subdomain को ना तो आपको कहीं से खरीदना पड़ता हैं और ना ही इसके लिए आपको कोई charge नहीं देना पड़ता। आपने जिस भी Domain Provider से Domain ख़रीदा है, उसी के Dashboard में जाकर आप बिलकुल Free में अपने लिए एक Subdomain बना सकते हैं।

जब भी हम एक Top Level Domains Name खरीदते है तो उसी के जरिये आप अलग अलग Subdomain बना सकते है। जैसे मेरा Domain Name – youthinfohindi.com हैं, तो अगर मुझे इसका Subdomain बनाना है और इसकी जानकरी मुझे English में करनी हैं तो मैं इसके लिए english.youthinfohindi.com नाम का subdomain बना सकती हूँ। इसके आगे लगा English शब्द एक Subdomain है।

Subdomain का सबसे बड़ा फायदा यह होता है की आप एक ही डोमेन से बहुत सारी websites यानि subdomains बना सकते है। इसे हम एक आसान उदाहरण से समझते हैं, जैसे की जब हम Blogspot पर एक Free Blog बनाते हैं, तो हमारे main domain name के पीछे .blogspot.com लिखा हुआ रहता है। इसमें .blogspot.com एक Subdomain होता है।

एक और उदाहरण हम Google का ले सकते हैं, जैसे की Google एक Search Engine है। लेकिन इसके तरह के Products हैं, जैसे की Google Map, Gmail, और Google Drive इत्यादि।

अगर हम Google Drive को खोलते हैं तो इसका Domain कुछ इस प्रकार आता है https://drive.google.com/ जिसमे google.com के आगे drive जुड़ा हुआ है, जो की एक प्रकार का Subdomain है और इसमें जो google.com है, यह मुख्य Root Domain है। झे उम्मीद है की आप अब आसानी से समझ गए होंगे की Subdomain क्या होता है।

 

सर्वश्रेष्ठ डोमेन नेम प्रदाताओं की सूची – Best Domain Name Providers List

अगर आप अपने ब्लॉग, वेबसाइट, Online Earning या व्यवसाय के लिए कोई वेबसाइट बनाना या बनवाना चाहते हैं तो आप खुद भी domain name खरीद सकते हैं। लेकिन उसके लिए आपको किसी अच्छे domain name Service provider से domain में account register कर के नया और unique domain name खरीदना होगा।

आपकी सहूलियत के लिए मैंने निचे कुछ Best Domain Name Providers List दी है। इनमे से आप किसी भी Domain Name Provider को चुन सकते हैं और अपने लिए domain name खरीद सकते हैं।

• GoDaddy
• DreamHost
• Bigrock
• Namecheap
• Bluehost
• EWeb Guru
• IPage
• ZNetLive
• Com

नोट : ICANN (The Internet Corporation for Assigned Names and Numbers) इंटरनेट कॉर्पोरेशन फ़ॉर असाइंड नेम्स एंड नंबर्स एक ऐसी संस्था है जो की ऊपर दी गयी सभी Domain Name Company को डोमेन बेचने के लिए Authorizes करती है। जो की एक गैर-लाभकारी, निजी संगठन है।

 

यह भी पढ़ें : नए ब्लॉग पर जल्दी Traffic बढ़ाने के 15 Tips और Tricks – How to Increase Blog Traffic Faster

 

Domain Name कैसे बनाये – How to Create a Domain Name

Domain Name लेने से पहले एक अच्छा Domain Name कैसे चुने, यह एक बहुत ही बड़ा सवाल है। अगर हम अपनी वेबसाइट या बिज़नेस के लिए शुरुआत में कोई गलत डोमेन चुन लेते हैं तो बाद में हमें बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए आइये जानते हैं की आप एक अच्छा Domain Name कैसे बना सकते हैं –

1. हमेशा Short Domain Name का चुनाव करें जो याद रखने में आसान हो, इसके लिए आप लगभग 1 या 2 शब्द का नाम चुन सकते हैं
2. ऐसे Domain name का चयन करें जिसे याद रखना, बोलना और टाइप करना आसान हो
3. आपका Domain Name Unique होना चाहिए और किसी दूसरे से मिलता जुलता नहीं होना चाहिए। अगर आप अपने Niche से रिलेटेड Domain Name चुनेंगे तो आपकी ब्रांडिंग अच्छी होगी।
4. Domain Name मे किसी भी तरह के special character जैसे Number, Hyphen इत्यादि का Use नहीं करना चाहिए।
5. हमेशा Top Level Domains (TLD) लेने की कोशिश करे की जिससे की पूरी दुनिया में लोग आपको और आपकी वेबसाइट को पहचान सकें।

 

Domain Name खरीदने के बाद क्या करें – What to do after buying a Domain Name

Domain Name खरीदने के बाद आपको एक Hosting लेने की आवश्यकता होती है। अगर आप एक Beginner Blogger हैं तो आपके लिए सबसे पहले यह जानना बहुत जरुरी है की Web Hosting क्या है। ऑनलाइन आपको बहुत सारी Web Hosting Service Provider Companies मिल जायेंगे जिनसे आप इसे खरीद सकते हैं।

ये Web Hosting Service Providers आपको कई तरह के Hosting Plans देते हैं। Hosting Plans खरीदने के लिए आपको सबसे पहले Hosting Website पर registration करना होता हैं। इसके बाद यहां से आप अपने Budget और Traffic के हिसाब से Hosting Plans को Select करके खरीद सकते हैं।

निचे मैंने कुछ भरोसेमंद Hosting Provider Companies के बारे में बताया हैं जिनसे आप अपने Budget के अनुसार किसी भी कंपनी से होस्टिंग खरीद सकते है :

• GoDaddy
• Hostinger
• Bluehost
• HostGator
• Bigrock
• A2 Hosting
• Dreamhost
• Nexcess
• GreenGeeks
• SiteGround

यह भी पढ़ें : Blogger Vs WordPress: 2022 में कौन सा Blogging Platform है बेहतर

 

Domain Name के क्या फायदे हैं – What are the benefits of a Domain Name in Hindi

जैसा मैं ऊपर बता चुकी हूँ की एक Domain name एक पता (Address) या स्थान (Location) है जो की आपको इंटरनेट पर विशिष्ट पहचान (Unique identity) और Brand देता है। प्रत्येक डोमेन का अपना विशिष्ट IP पता (Specific IP Address) होता है जिसका उपयोग वेब पर उन फ़ाइलों तक पहुँच प्रदान (Access Provide) करने के लिए किया जाता है।

साथ ही साथ Virtual Mailbox, Virtual FTP और अन्य सेवाएँ प्रदान (Other Service provide) करने के लिए उपयोग किया जाता है। उपयोगकर्ता इस पते को अपने Web Browser में सीधे दर्ज (Enter) कर सकते हैं जिससे किसी Website पर सीधे (Direct) पहुँचा जा सकता है।

Domain Name के क्या फायदे – Advantages of a Domain Name in Hindi  

  • Domain Name का उपयोग Cyber Space में एक विशिष्ट पहचान स्थापित करने के लिए किया जा सकता है।
  • Domain Name, Search Engines में आपकी website पर विश्वसनीयता का निर्माण करते हैं।
  • Domain Name आपकी वेबसाइट के प्रचार के अवसरों में सुधार करते है।
  • Domain Name से आपकी website professional दिखती हैं इसलिए यह आपकी वेबसाइट को लेकर लोगों में professionalism की भावना पैदा करता है।
  • Domain Name को फिर से बेचा जा सकता है और इसे Rent पर भी लिया जा सकता है तथा इसे बदला भी जा सकता है।
  • Domain Name portable होते हैं।
  • Domain Name के उपयोग से आप एक अद्वितीय Secondary / professional स्थायी ईमेल पता (Permanent Email address) ले सकते हैं जो सामान्य Gmail या Yahoo mail इत्यादि से अलग दिखता हैं, उदाहरण के तौर पर मेरी वेबसाइट https://youthinfohindi.com/ के लिए professional mail id – [email protected] या फिर [email protected] या [email protected] इत्यादि mail id बना सकते हैं।
  • कुछ search engines में साइट की रैंकिंग को बेहतर बनाने के लिए भी Domain Name का उपयोग किया जाता है।

 

यह भी पढ़ें : 100% Google AdSense Account Approval Tips & tricks 2022 in Hindi

 

आशा करती हूँ की मैंने आप लोगों को Domain Name क्या है और यह कैसे काम करता है | Domain Name कितने प्रकार का होता है | Domain Name के फायदे in Hindi (What is Domain in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी दी हैं।

मेरी सदैव यही कोशिश रहती हैं की मैं अपने readers के लिए रोज़ाना नयी नयी जानकरियां ले कर आऊं। आज के पोस्ट से related किसी भी सवाल या सुझाव के लिए मुझे कमेंट जरूर करें और इस पोस्ट को शेयर जरूर करें औरों को भी इस जानकरी का लाभ उठाने का मौका मिले। ऐसी ही कई तरह की नकारियों के लिए मुझे Social Media Networks पर Follow जरूर करें।

Share This Post and Spread the Love

Leave a Comment

Your email address will not be published.