Blog क्या है | Blogging कैसे करते हैं | Blogging kaise kare in hindi

Blog और Blogging क्या है | Blogging कैसे करते हैं

आपके मेरे इस पोस्ट पर आने का मतलब यही है की आप इस चीज को जानने में Interested है की एक Professional Blog कैसे बनाते हैं और Professional Blogging कैसे की जाती है। आज के इस लेख में हम जानेंगे की Blog और Blogging क्या है | Blogging कैसे करते हैं | What is Blogging and how to do Blogging in Hindi। ब्लॉग क्या है (what is blog in hindi), ब्लॉग्गिंग क्या है (meaning of blogging in hindi) और हिंदी ब्लोग्स कैसे लिखें, इन सब के बारे में जानने के लिए पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें। 

Professional Blogging के बारे में जानने से पहले आपको यह पता होना चाहिए की Blog क्या होता है। दोस्तों Blog एक तरह की website होती है जहाँ लोग अपना Knowledge, Experience और Information शेयर करते हैं। अगर आप blogging करने की सोच रहे हैं तो आपके मन में Blog, Blogger और Blogging से जुड़े कई सवाल होंगे। तो आज के इस पोस्ट में आपको हर तरह की जानकारी (All about blogger & All about Blogging in Hindi) मिलेगी। 

टेक्नोलॉजी के इस ज़माने में अगर हमे किसी भी तरह की कोई भी जानकारी चाहिए होती है तो हम सीधा google या किसी अन्य search engines में अपने सवाल के जवाबों के लिए search करना शुरू कर देते हैं। जब हम search engines में कुछ भी सर्च करते हैं तो हमारे उस search के result में हमे बहुत सी जानकारियां blogs या websites के रूप में मिलते हैं।

लेकिन इसका ये मतलब बिलकुल नहीं है की search engines में लोगों के problems का solution रहता है। Search engines का काम बस इतना है की वो आपको अलग – अलग blogs और websites से information collect करके आपको उनके links दिखाता है ताकि आप उनमे से आप अपनी जरुरत के हिसाब से अपने result का चनें कर सकें।

दूसरे शब्दों में हम यह कह सकते है की लोग अपनी जानकारी और अपना अनुभव लोगों के साथ share करने के लिए blogging करते हैं। इससे Bloggers (Writers) और Readers दोनों का फायेदा होता है क्यूंकि दोनों किसी ना किसी रूप में एक दुसरे की सहायता करते हैं।

 

Blog क्या है | Blogging कैसे करते हैं | Blogging kaise kare in hindi

ब्लॉग क्या है – What is Blog in Hindi (Blog kya hai)

Blog (web log) एक तरह की website होती है जहाँ लोग अपना Knowledge, Experience और Information शेयर करते हैं। जब हम google में कुछ भी सर्च करते हैं और इसमें जो websites नीचे रिजल्ट में दीखते हैं उन्हें ही ब्लॉग कहते हैं। 

ब्लॉग एक तरीके से वेबसाइट ही होती है। इसमें पोस्ट लगातार डालते रहना पड़ता है और इसे निरंतर update किया जाता है। मेरी साइट Youthinfohindi एक ब्लॉग का ही उदाहरण है। ब्लॉग में Blogger के द्वारा नए content को publish किया जाता रहता है और ब्लॉग को एक informal या conversational style (आम बातचीत करने वाली शैली) में लिखा जाता है।

ब्लॉग का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को अपनी ओर आकर्षित करना, साथ ही कुछ अन्य लक्ष्यों को हासिल करना, community building या एक business को grow करना और साथ ही लोगों तक सही जानकारियां पहुँचाना भी हो सकता है।

 

यह भी पढ़ें :7 Latest SEO Trends in Hindi 2022 – SEO के लिए जरुरी Tips Top 7

 

ब्लॉग्गिंग क्या है – What is Blogging in Hindi (Blogging kya hai)

ब्लॉगिंग वह कार्य है जिसमे आप अपने ब्लॉग पर लगातार पोस्ट डालते हैं | मतलब अगर आपकी एक वेबसाइट हैं और आप उसपर लगातार पोस्ट डालते हैं, तो इसका मतलब है की आप ब्लॉगिंग कर रहे हैं। संक्षेप में बोले तो एक web log जिसे की shortened फॉर्म में “blog” कहा जाता है, असल में एक web page होता है जिसमें की बहुत से contents या blog posts डाले जाते हैं, जिसे ब्लॉग्गिंग कहा जाता है।

यदि किसी को Blogging करना आता है इसका मतलब यह है की उसके पास वो सभी skills मौजूद हैं जिसका उपयोग कर के वो आसानी से एक Blog को run और control कर सकता है। अपने Web page में सही तरह के tools का इस्तेमाल कर आप अपने लिखने, Blog Post करने, Linking करने और साथ ही Blog के content को इन्टरनेट में share करने में मदद प्राप्त कर सकते हैं। ब्लॉगिंग करने के लिए कोडिंग की जरूरत बिलकुल नहीं होती है।

 

ब्लॉगर कौन होता है – Who is a Blogger (Blogger kaun hota hai)

Blogger असल में वो इन्सान होता है जो की उस Blog का मालिक होता है। Blogger वह इन्सान होता है जो की ब्लॉग को जिन्दा रखता है और उसमें समय समय पर नए blog post, नयी-नयी जानकारियां, case studies, अपने मत (opinions) इत्यादि को लिखकर लोगों के साथ साझा करता है।

एक Blogger के तौर पर आप मेरा यानि Namrata Maurya का उदाहरण ले सकते हैं क्यूंकि मैं अपने ब्लॉग पर लगातार पोस्ट डालती हूँ इसका मतलब यह है की मैं एक ब्लॉगर हूँ।

 

यह भी पढ़ें :2022 Blog Par Traffic Kaise Badhaye 2022 | नए ब्लॉग पर जल्दी Traffic बढ़ाने के Tips और Tricks Top 15 – How to Increase Blog Traffic Faster

 

ब्लॉग्गिंग से जुड़ी सभी जरुरी परिभाषाएं – All the necessary definitions related to Blogging

ब्लॉग की परिभाषा – Definition of a Blog

ब्लॉग एक online journal / diary होता है जो की Internet में उपलब्ध होता है, जिसे internet users के द्वारा पढ़ा जाता है।

 

ब्लॉग्गिंग की परिभाषा – Definition of a Blogging

Blogging का मतलब होता है वो सभी कार्य जो की एक Blogger अपने Blog पर नियमित रूप में करता है, जैसे की informational blog post करना, उसकी design सुधारना, SEO करना, linking और sharing करना इत्यादि।

इन सभी कार्यों को मिलाकर इसे Blogging कहा जाता है। Blogging करने के लिए आपके पास सभी जरुरी खूबियाँ होनी चाहिए और अगर आपके पास वो खूबियां नहीं हैं तो आप उन्हें दूसरों से भी जरुर सीख सकते हैं।

 

ब्लॉग पोस्ट की परिभाषा – Definition of Blog Post

Blog Post किसी article या किसी content का एक हिस्सा होता है जो की blogger द्वारा अपने blog पर लिखा जाता है। उदाहरण के लिए मेरा यह article जिसे आप अभी पढ़ रहे हैं, यह एक blog post जो की मेरे द्वारा इस blog में लिखी गयी है।

 

यह भी पढ़ें :Blogger Vs WordPress In Hindi 2022 | जानिए कौनसा Blogging Platform बेहतर है

 

ब्लॉग्गिंग के प्रकार – Type of Blogging in Hindi 

ब्लॉग्गिंग दो प्रकार की होती है
1. Personal or Hobby Blogging जिसे Event Blogging भी कहते हैं
2. Professional Blogging जिसे Permanent Blogging भी कहते हैं

Personal or Hobby Blogging or Event BloggingPersonal या Hobby bloggers वो होते हैं जिनके पास शेयर करने के लिए कुछ stories, wishes या experience होता है। ऐसे bloggers अपने बारे में, अपनी दिनचर्या और अपने अनुभव इत्यादि शेयर करते हैं।

Personal Blogging या Hobby Blogging का उद्देशय पैसे कमाना नहीं होता है। इसे बस एक hobby के तौर पर blogging किया जाता है। Personal Bloggers के पास ब्लॉग्गिंग के लिए कोई specific strategy या plan नहीं होता। ये बिना किसी motive के अपने Blogs या experience शेयर करते हैं। इनके लिए blogging बस एक time pass की तरह होता है। 

Professional Blogging or Permanent Blogging : Professional Blogging क्या होता है? जैसे की मैंने आपको पहले ही बताया था की अगर हम कोई चीज़ professionally करते हैं, तो इसका ये मतलब होता है के हम उससे कुछ income करना कहते हैं। Professional Bloggers वो होते हैं, जो सिर्फ Blogging करके इतना पैसा कमा (money earn) लेते हैं की उससे उनका घर चल जाता है। Professional Blogging उनके लिए एक तरह का business होता है।

Professional Blogging इसमें बहुत मेहनत लगती है। इसमें सामग्री तथा लेख बहुत डालने होते हैं। इसमें कमाई के लिए काफी लम्बा इंतज़ार करना पड़ता है लेकिन एक बार अगर आपने अच्छे से ब्लॉग बना लिया तो आप ज़िन्दगी भर उससे कमाई कर सकते हैं।

Professional Blogging में Professional Bloggers Blogging के अलावा अपने ब्लॉग पर ads देकर या फिर कई तरीकों से पैसा कमाते हैं। Blogs या Websites में जो आप ads देखते हैं इसी से Bloggers पैसे कमाते हैं। इसके अलावा ऐसे बहुत से उपाय है जिससे की ये Bloggers अपने Blog से अच्छा खासा revenue generate करते है। जैसे की :

• Advertising
• Affiliate links
• Content subscriptions
• Online courses
• E-books
• Membership websites
• Donations
• Coaching या consulting

इन सबसे भी Professional Bloggers अपने लिए अच्छी खासी income generate कर लेते हैं।

प्रोफेशनल ब्लॉगिंग क्या है – What is Professional Blogging

एक Professional Blogger के पास अच्छे और बेहतर plans & strategies होती हैं जिससे वो अपने Blog से पैसा कमाते हैं। जैसे बिना planning के कोई business नहीं चल सकता वैसे ही Professional Bloggers बिना plans & strategies के पैसा नहीं कमा सकते।
एक Professional blogger एक Personal blogger से बिलकुल अलग होता है।

 

प्रोफेशनल ब्लॉगर क्या करते हैं – What do professional bloggers do?

ऊपर मैंने जो भी बताया उससे आपको लग रहा होगा ना की Professional Bloggers बड़े आराम से महीने के लाखों रुपये कमाते हैं, पर यह सच्चाई नहीं है क्यूंकि Professional Bloggers की जिंदगी उतनी आरामदायक भी नहीं है जितनी की बोली जाती है या हमे लगती है। अगर वो आज इस मुकाम पर हैं तो उसके पीछे उनकी कई कई घंटो की मेहनत, रात रात भर जागना, उनके कई तरह के skills इत्यादि रहे हैं, तब कही जाकर उनके लिए ये सब संभव हो पाया है।

आज के टेक्नोलॉजी के ज़माने में हर कोई धीरे धीरे ऑनलाइन आ रहा है। किसी को अपने किसी भी सवाल का जवाब चाहिए होता है वो तुरंत Google कर लेते हैं। ऐसे में नए – नए और unique contents की demand दिन-ब-दिन बढती ही जा रही है। तो अगर आप भी एक Professional Blogger बनना चाहते हैं तो आप भी अपनी कड़ी मेहनत और कुछ strategies से ऐसा कर सकते हैं और इस मुकाम को पा सकते हैं।

 

Some important tips to become a Professional Blogger in Hindi

 

यह भी पढ़ें : Content Sharing Websites जो Blog का ट्रैफिक बढ़ाने में मदद करेंगे

 

प्रोफेशनल ब्लॉगर बनने के लिए कुछ जरुरी टिप्स – Some important tips to become a Professional Blogger in Hindi

Indian Professional Blogging के father Mr. Amit Agarwal जी, जिन्होंने अपनी नौकरी को Blogging के लिए छोड़ दिया था। आज के समय में वो Blogging से इनता पैसा earn कर लेते है, जितना की कोई भी company उन्हें शायद ही दे पाता।

जो लोग blogging के लिए नौकरी छोड़ देते हैं या फिर blogging को ही अपनी earning का source मानते हैं वो लोग Blogging के जरिये अच्छा पैसा कमा रहे हैं क्यूंकि उन्होंने एक अच्छे Professional Blogger के रूप में अपना एक अलग ही मुकाम बनाया है और उन्हें अपना काम खुद करना होता है, जो वो अपनी सुविधानुसार कभी भी कर सकते है।

Blogging करने के क्या फायदे हैं – जब हम किसी की नौकरी करते हैं तो हमे उनकी सुननी पड़ती है, टाइम से दफ्तर पहुंचना होता है, लेट गए या बीमार हुए तो पैसे काट लिए काट लिए जाते हैं। और तो और अगर नौकरी नहीं रही तो पैसे की तंगी भी हो जाती है जिससे घर बार चलना मुश्किल हो जाता है।

लेकिन Blogging में ऐसा कुछ नहीं है, Blogging करने के फायदे बहुत हैं। इसमें आप अपनी मर्जी के मालिक होते हैं। आप कभी भी और कहीं से भी Blogging कर सकते हैं। आपको जब यह काम करना है तब कीजिये और इसकी सबसे अच्छी बात यह है की यह Long term में आपके लिए एक money earning pipeline की तरह काम करेगा और आपको आपको अच्छी कमाई भी देगा।

आज मैं आपको कुछ ऐसे Tips बताने वाली हूँ जो आपको एक आम blogger से एक professional blogger बनने में आपकी काफी मदद करेगा।

1. सही Niche का चुनाव करेंBlogging करने के लिए सबसे जरुरी चीज है आपके द्वारा एक सही Niche (Topic) का चुनाव। तो सबसे पहले आप उस विषय के बारे में सोचिए जिस विषय में आप सबसे अच्छा लिख सकते हैं और जिसकी जानकारी आपको बहुत अच्छे से है। मतलब अगर आपको एक ऐसा विषय दे दिया जाये जिसके बारे में आप लगातार नियमित रूप से Articles लिख सकें, चाहे वो विषय कोई सा भी हो।

Niche blogging का key है। आप जिस भी topic या niche का आप चुनाव करे, केवल उसी पर ही articles लिखें। बार बार articles की topic बदलते रहने से लोगों का आपके blog पर से विश्वास उठ जाता है। अगर आप एक ही niche पर stick रहेंगे और article लिखते रहेंगे तो इससे आपके loyal visitors बढ़ने के संभावनाएं बढ़ जाती है। 

2. Blog NameNiche का चुनाव करने के बाद सबसे जरुरी चीज जो है वो है की अपने blog का नाम क्या रखें। आपके Blog का नाम बहुत जरुरी होता हैं क्यूंकि एहि आपके पुरे blog या website को visitors के दिमाग में एक इमेज की तरह छाप देता है।

जैसे अगर मैं आज तक न्यूज़ चैनल का नाम लूँ तो आपको इसके नाम से ही पाता लग जाएगा की ये चैनल क्या data provide करता है ठीक ऐसे ही आपके blog का नाम भी ऐसा होना चाहिए जिसका नाम लेते ही दिमाग में आ जाये की इस ब्लॉग पर किस तरह की जानकारियां मिलती हैं और आपके लिखने का तरीका कैसा है। ब्लॉग के नाम को तकनिकी भाषा में domain name बोलते हैं।

आपका डोमेन नेम ऐसा unique होना चाहिए और दो शब्द का हो तो बहुत अच्छा है। इससे लोगों को आपके ब्लॉग का नाम यद् रखने में आसानी होती है। ब्लॉग का नाम अंग्रेजी में ही होना जरुरी नहीं है, यह हिंदी में भी हो सकता है पर इसकी स्पेलिंग और उच्चारण ऐसा होना चाहिए की एक बार में ही याद हो जाये। 

 

यह भी पढ़ें :Domain Name क्या है और यह कैसे काम करता है | Domain Name कितने प्रकार का होता है

 

3. Site Speed और Hosting आपके ब्लॉग की सारी जानकारियां जैसे की आपकी इमेज, आपका कंटेंट, वीडियोस इत्यादि इन्टरनेट पर कही ना कही रखे जाते हैं। ये सामग्रियां users तक कितनी तेज़ी से पहुँचती है इसी चीज को hosting कहते हैं। आपको hosting service के बारे में भी सबसे पहले सोचना है।

आप जितनी अच्छी hosting purchase करेंगे आपकी वेबसाइट या ब्लॉग उतनी ही जल्दी load होगी और आपके जो users हैं उनका आपके blog पर जाने का अनुभव भी काफी बेहतर होगा। ब्लॉग की speed factor आपके users के साथ साथ Google Search Engine के साथ भी अच्छे से काम करता है।

जैसे मान लेते हैं किसी user ने आपकी साइट पर कुछ Search किया लें आपकी साइट खुलने में समय ले रही है तो user झटसे आपकी साइट को छोड़ कर किसी और साइट पर चला जाएगा, गूगल भी इसे नोट करता है की user ने ये जो वेबसाइट छोड़ी है वो क्यों छोड़ी है। गूगल को ये message जाता है की आपकी साइट में या तो कोई कमी है या फिर इसकी स्पीड कम है।

अगर आपके competitor की साइट की स्पीड आपकी साइट से बेहतर है तो लोग आपसे ज्यादा उसकी साइट पर जाना पसंद करेंगे इसलिए आपको अपनी वेबसाइट की स्पीड पर ध्यान देना चाहिए और इसमें सबसे अच्छा काम आपकी hosting service करती है।  

4. सही platform चुने Blogging करने के Platforms बहुत सारे हैं। इसमें से most popular platform है WordPress दुनिया की ज्यादातर most popular websites wordpress पर ही बनी है। मैं यह नहीं बोल रही की आप अपना ब्लॉग wordpress पर ह बनाएं। ऐसी बहुत सी फ्री के platforms भी हैं जहाँ आप ब्लॉगिंग शुरू कर सकते हैं जैसे की Google का Blogger.

ब्लॉगिंग की शुरुआत करने के लिए आप ब्लॉगर को चुन कर सकते हैं लेकिन Blogger सिर्फ blogging करने के लिए बनाया गया है और अगर आपको अपने साइट पर registration, quiz इत्यादि जैसे features add करने हैं या फिर अगर आपको को professional वेबसाइट बनानी है तब उसके लिए Blogger नहीं है। (Blogger vs WordPress कौनसा है बेहतर)

उसके लिए आपको WordPress पर ही आना होगा क्यूंकि यहाँ आपको बहुत सारे सारे features मिलते हैं जिससे आप अपनी साइट को full customization करके बना सकते हैं। यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है की आप एक फ्री प्लेटफार्म को चुनने हैं या WordPress जैसी paid platforms को।

5. Be Professional आप अपने आप को जब भी और जिस भी platform पर blogging करने के लिए ले कर आएं चाहे वो Blogger हो या WordPress, उसे एक ब्रांड की तरह ले कर आएं। आप जो भी आर्टिकल लिखते हैं उसकी गुणवत्ता का ध्यान रखें। कहने का मतलब यह है की जब भी कोई आपके आर्टिकल को पढ़े तो उसे ऐसा लगना चाहिए की आपने बहुत मेहनत करके ये आर्टिकल लिखा है।

कॉपी – पेस्ट जैसी चीजों से आपको दूर रहना हैं। दूसरे के आर्टिकल्स से आपको बस एक आईडिया लेना है, आईडिया लेना कोई बुरी बात नहीं है लेकिन उस आर्टिकल में जबतक आपके खुद के लिखने का तरीका नहीं आएगा तब तक वो किसी के काम का नहीं है।

आप जो भी लिखते हैं उसका एक मात्रा उद्देश्य यही होना चाहिए की आपका लिखा आर्टिकल किसी के काम जरूर आये। अगर आपके आर्टिकल से किसी की समस्या का समाधान होता है इसका मतलब यह हुआ की आपकी ब्लॉगिंग सफल हो रही है। 

6. ब्लॉग की marketing करेंआपने ब्लॉग बना लिया और अच्छे अच्छे content भी लिख लिए लेकिन अगर आपने इसकी marketing नहीं की तो आपके ब्लॉग के बारे में किसी को पाता ही नहीं चलेगा और आपको ट्रैफिक नहीं मिलेगा, इसलिए marketing बहुत जरुरी है। Marketing के लिए आप दो तरीके इस्तेमाल कर सकते हैं एक तो free marketing और दूसरा paid marketing.

Free marketing जैसे social media या दूसरे के ब्लॉग पर कमेंट करके आप अपने ब्लॉग की मार्केटिंग कर सकते हैं। यहाँ आप अपने ब्लॉग के links को छोड़ सकते हैं जिससे वहां आने वाले लोग आपकी साइट पर भी आ सके। जब आप किसी दूसरे के ब्लॉग पर कमेंट करते हैं तो वो बहुत ही professional होना चाहिए और उसमे आपने जिसके ब्लॉग पर कमेंट किया है उसके बारे में अच्छी अच्छी बातें जरूर लिखी होनी चाहिए ताकि आपका कमेंट approve हो जाये।

अगर कोई user आपका कमेंट पढ़े तो उसे ऐसा लगना चाहिए की वाकई में आपका कमेंट काम का है और आपने कमेंट में अच्छी बातें लिखी है। कभी भी किसी के ब्लॉग पर लगातार कमेंट ना करें क्यूंकि इससे आपकी साख (image) ख़राब होती है।

7. Negative Comments को Ignore करें – जब हम ब्लॉगिंग की दुनिया में आते है तो यहाँ पर सभी तरह के लोग होते हैं। यहाँ आपक प्रोत्साहन करने वाले लोग भी मिलेंगे और विपरीत लोग भी मिलेंगे, यहां हम negative comments की बात कर रहे हैं।

इन्टरनेट के आ जाने से और स्मार्ट फ़ोन के सस्ते हो जाने से आजकल सबको यह आज़ादी मिल गई है की कोई भी कही भी आजकल बस keypad ओपन करता है और टाइप करना शुरू कर देता है। ऐसे लोग आपकी मेहनत को नहीं देखते इसलिए ऐसे लोगों के negative comments की ओर आपको ध्यान नहीं देना है।

ऐसा देखा गया है की बहुत से ऐसे bloggers हैं जो negative comments के आने के बाद blogging करना छोड़ देते हैं। आपको ऐसा बिलकुल नहीं करना है आप बस positive comments पर ध्यान दीजिये और सकारात्मक रहिये, negative comments को आप अपने ब्लॉग से हटा कर ऐसे लोगों को block कर सकते हैं।

सकारात्मकता आपके अंदर ऊर्जा उत्त्पन्न करती है इसलिए हमेशा सकारात्मक रहिये और blogging में बिना रुके बने रहिये। एक दिन आपक सफलता जरूर मिलेगी। 

8. Use Images in Articlesऐसा देखा गया की जब किसी किताब में text के साथ साथ images का भी इस्तेमाल होता है तो लोगों को उसे पढ़ने में ज्यादा मज़ा आता है। इसलिए जब भी अपने ब्लॉग पर कोई article publish करते हैं तो उसके साथ में आप उस आर्टिकल से जुड़ी कोई इमेज जरूर लगाएं क्यूंकि लोगों को images देखना बहुत पसंद होता है।

जो भी जानकारियां आप अपने आर्टिकल में दे रहे हैं अगर आपने उससे जुड़ी कोई फोटो वहां पर डाल देते हैं और फोटो के साथ अगर कुछ text (infographic) भी डाल देते हैं तो वो लोगों को बहुत आकर्षित करता है। कुछ विषय ऐसे होते हैं जो वाकई में समझ में नहीं आते हैं लेकिन अगर आप उस विषय से जुड़ी कोई इमेज अपने आर्टिकल में लगा देते हैं तो वो लोगों की समझ में आसानी से आ जाती है।

इसका बेहतर उदाहरण कॉमिक्स है जो चित्रों के साथ आने की वजह से ज्यादा प्रचलित हुई थी। इमेज से लोगों का interest बढ़ता हैं और लोग आपके ब्लॉग पर ज्यादा से ज्यादा देर रहना पसंद करते हैं। अगर user आपके ब्लॉग पर ज्यादा समय बीतता है तो गूगल को ये लगता है की आपके ब्लॉग पर जरूर कोई बहुत अच्छी चीज है जिससे users आपके ब्लॉग पर इतने समय तक टिक रहे हैं। 

9. Internal Linking जरूर करें – जैसे इमेज लगाने से user आपकी साइट पर ज्यादा देर टिकता है वैसे ही अगर आपने अपने आर्टिकल्स में Internal Linking जिसे hyperlink भी कहते हैं, की है तो आपके users का आपने ब्लॉग पर बीतने वाला समय बढ़ेगा।

अगर user ने आपके एक article को पढ़ने में 10 मिनट बिताये और दूसरे आर्टिकल को भी पढ़ने में 10 मिनट बिताये तो उस user ने आपके ब्लॉग पर पुरे 20 मिनट बिताये हैं। इससे गूगल को ये मैसेज जाता है की आपके ब्लॉग में वाकई कुछ अच्छी सामग्रियां हैं और वो आपके ब्लॉग को Rankup यानि सबसे पहले पेज पर लाने की कोशिश करेगा। 

10. छोटे पैराग्राफ्स लिखें (Make short Paragraphs) शुरूआती ब्लॉगर की सबसे बड़ी गलती यही होती है की वो एक पैराग्राफ को बहुत लम्बा लिख देते हैं। ज्यादातर लोग किसी ऐसे आर्टिकल को पढ़ना बिलकुल पसंद नहीं करते जिसमे बहुत लम्बे लम्बे पैराग्राफ होते हैं।

ऐसे आर्टिकल्स को देख कर ही इसे पढ़ने का मन नहीं करता, वो बहुत बोरिंग सा दीखता है और लोगों को लगता है की इसे पढ़ने में जायदा समय लगेगा। इसलिए आपके पैराग्राफ हमेशा छोटे होने चाहिए, लगभग 3 – 4 लाइन्स के, ताकि लोगों को उसे पढ़ने का मन करे।

इसके साथ आप bullets और numbers का इस्तेमाल कर सकते हैं, list और comparison table बना सकते हैं, इससे लोगों को आपका आर्टिकल पढ़ने में मज़ा आता है और वो लम्बे समय तक आपके ब्लॉग पर बने रहते हैं और अगर user ज्यादा समय तक आपके ब्लॉग पर बने रहेंगे तो इसका फायदा मैं आपको पहले ही बता चुकी हूँ। 

11. Simple Navigation – आपके ब्लॉग का डिज़ाइन ऐसा होना चाहिए जिससे कोई भी व्यक्ति आपके ब्लॉग को आसानी से देख सके और उसे आपके ब्लॉग को समझने में परेशानी बिलकुल ना हो।

आपके ब्लॉग पर Pages, categories, टैग्स, Search bar इत्यादि एक दम व्यवस्थित तरीके से लगा होना चाहिए ताकि कोई भी व्यक्ति अगर कोई कीवर्ड डालकर कोई ब्लॉग सर्च करना चाहता है तो वो कर सके और आपके ब्लॉग पर उपस्थित सारी जानकारियों को अच्छे से समझ सके।

अगर किसी ब्लॉग का डिज़ाइन लोगों को पसंद नहीं आता या उसे उस ब्लॉग पर कुछ समझ नहीं आता तो वो उसे छोड़कर किसी और ब्लॉग पर चले जाते हैं। इसलिए अपने ब्लॉग को रैंक कराने और visitors की संख्या बढ़ाने के लिए आप अपने ब्लॉग के डिज़ाइन पर जरूर ध्यान दें। 

12. नियमितता बनाये रखें – आपका ब्लॉग बन गया, आपने कंटेंट अच्छे अच्छे लिख दिए हैं, सब कुछ अच्छा किया है लेकिन अगर आप अपने ब्लॉग पर नियमित रूप से आर्टिकल्स पब्लिश नहीं करते हैं तो इससे आपके users के ऊपर नेगेटिव impression पड़ता है। ऐसा ना करें की आपने आज एक आर्टिकल लिख दिया फिर 2 महीने या एक साल बाद आर्टिकल लिख रहे हैं।

ऐसा करने से आप अपने users को खो देंगे। लोगों को लगता है की आपके ब्लॉग पर नियमित रूप से अच्छे अच्छे आर्टिकल आते हैं तो लोग बार बार आपके अगले आर्टिकल के आने का इंतज़ार करते हैं इसलिए आर्टिकल्स लिखने में नियमितता का होना बहुत जरुरी है।

आपको सिर्फ नए users के लिए काम नहीं करना बल्कि पुराने users को भी साथ लेकर चलना है। आपके ब्लॉग का navigation, आर्टिकल लिखने का तरीका इत्यादि आपको बेहतर रखनी है। 

13. Traffic Analysis – आपके ब्लॉग पर जो ट्रैफिक आ रहा है वो कहा से आ रहा है, किस माध्यम से आ रहा है, किस डिवाइस का उपयोग ज्यादा किया जा रहा है, किस age ग्रुप के लोग आपकी साइट को देखने के लिए आ रहे हैं, किस तरह का आर्टिकल को पढ़ना लोग ज्यादा पसंद कर रहे हैं। इन सबका analysis कीजिये और उनकी रूचि के हिसाब से आर्टिकल्स लिखिए। इससे आपके ब्लॉग को growth करने में और भी ज्यादा सहायता मिलेगी।

 

 

जरुरी सुझाव खुद का प्रतिनिधित्व कीजिये, अपने आप को represent कीजिये, लोगों को बताइये की आप कौन हैं। लोग आपके ब्लॉग को फॉलो करने से ज्यादा पसंद करेंगे की वो आपके बारे में जाने। जैसे अगर आप किसी बहुत पॉपुलर व्यक्ति को फॉलो करते हैं तो उसकी लेखन शैली से लोगों को प्यार हो जाता है और लोग फिर उसे पढ़ना चाहते हैं।

लोग उस आर्टिकल को पढ़ने नहीं आते हैं बल्कि वो उस व्यक्ति के द्वारा लिखे हुए आर्टिकल को पढ़ें आते हैं। इसलिए लोगों को ब्लॉग के माध्यम से अपने आप से परिचय कराइये और लोगों से जुड़िये क्यूंकि जितना ज्यादा आप लोगों से जुड़ेंगे उतना ही ज्यादा आपका ब्लॉग पॉपुलर होता जाएगा।

अपने social media handles को अपने ब्लॉग पर लगाइये और उसके माध्यम से लोगों को आपको फॉलो करने के लिए कहिये तथा ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ जुड़िये। लोगों के सवालों का जवाब दीजिये और एक भावनात्मक रिश्ता भी बनाइये, आपका ब्लॉग एक दिन जरूर सफल होगा।

 

यह भी पढ़ें :2022 100% Google AdSense Account Approval Tips & tricks in Hindi | Google AdSense Approval Trick In Hindi 2022

 

तो अगर आपको लिखने का सौख है तो आप आसानी से blogging field में आ सकते हैं लेकिन अगर आपको Blogging के जरिये अच्छा earning करना है तो आपको उसके लिए एक बेहतर plan, लगन, मेहनत और धैर्य की जरुरत होती है।

Blogging का मतलब यह बिलकुल नहीं है की आपने आज एक blog बनाया, उसमे पोस्ट्स डालें और कल से आपकी earning शुरू हो जाएगी बल्कि blogging से पैसा कमाने के लिए आपको मेहनत, लगन और सबसे ज्यादा धैर्य की जरुरत है।

आज के लेख में मैंने जो भी चीजे बताई हैं वो आपको एक successful blog बनाने में काफी मदद करेंगे। आशा करती हूँ आज का यह लेख आपको जरूर पसंद आया होगा। इसी तरह के और भी जानकारी भरे लेखों के लिए आप मुझे मेरे social media handles पर जरूर फॉलो करें और इस पोस्ट को शेयर करना बिलकुल ना भूलें।

Share This Post and Spread the Love

3 thoughts on “Blog और Blogging क्या है | Blogging कैसे करते हैं”

Leave a Comment

Your email address will not be published.